12 April 2016

मौसम मचाए बड़ा शोर , ओ सजना



मौसम मचाए बड़ा शोर , ओ सजना

काली घटाए घनघोर , ओ सजना


बादल के कारें कारें

नैना जो हैं कजरारे
बूँदे गिरायें चहूँ ओर , ओ सजना
काली घटायें घनघोर ओ सजना




नीले से पर फैलायें

बरखा संग झूम ये गाएं
जंगल में नाचें देखो, मोर ओ सजना
काली घटायें घनघोर ओ सजना


सजनी ये रस्ता ताके

जब तब ख़िरक़ी से झाँके
अब तो आ जाओ चितचोर ओ सजना
काली घटायें घनघोर ओ सजना